आईसीएआर की सक्रिय पहल से सुनिश्चित होगी खाद्य, पोषण और आजीविका सुरक्षाः श्री शरद पवार

18 फरवरी 2013, नई दिल्ली

84वीं आईसीएआर सोसायटी की वार्षिक आम बैठक श्री शरद पवार, केंद्रीय कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री एवं अध्यक्ष, आईसीएआर सोसायटी ने कहा कि आईसीएआर की सक्रिय पहल से राष्ट्र की खाद्य, पोषण और आजीविका सुरक्षा सुनिश्चित होगी। वे 84वीं आईसीएआर सोसायटी की वार्षिक आम बैठक को सम्बोधित कर रहे थे।

11वीं पंचवर्षीय योजना काल में कृषि क्षेत्र में वृद्धि और विकास को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि, "10वीं योजना के 2.4 प्रतिशत के मुकाबले 11वीं पंचवर्षीय योजना में कृषि तथा सम्बन्धित क्षेत्रों की विकास दर 3.7 प्रतिशत रही। अगर इसमें से वानिकी क्षेत्र को अलग कर दिया जाए तो कृषि क्षेत्र की विकास दर 3.8 प्रतिशत रही जो तय किए गए लक्ष्य 4 प्रतिशत के काफी नजदीक है।"

कृषि के लिए भूमि उपलब्धता, मृदा की उर्वरता, गिरते जलस्तर, आनुवंशिक कटाव, आक्रामक कीट व रोग तथा जलवायु परिवर्तन पर चिंता व्यक्त करते हुए श्री पवार ने वैज्ञानिक शोध पर जोर देते हुए कहा, "प्राकृतिक संसाधनों की सीमित उपलब्धता के कारण 1.2 अरब से अधिक की देश की जनसंख्या की खाद्य सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए उत्पादन में नए आयाम स्थापित का प्रयास करने के अतिरिक्त कोई विकल्प नहीं है।"

उन्होंने 12वीं पंचवर्षीय योजना में प्रस्तावित कार्यक्रमों जैसे फार्मर फर्स्ट, स्टूडेंट रेडी और आर्या आदि पर भी जोर दिया।

84वीं आईसीएआर सोसायटी की वार्षिक आम बैठक 84वीं आईसीएआर सोसायटी की वार्षिक आम बैठक

श्री तारिक अनवर, कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री, भारत सरकार ने आईसीएआर के प्रकाशन बाग प्रबंध, शीप प्रोडक्शन, पेस्टीसाइड रेसीड्यू एनालिसिस मैनुअल, ऑर्गेनिक लाइवस्टॉक फार्मिंग और क्षेत्रीय परियोजना निदेशालय, जोन-III के केन्द्र प्रायोजित कृषि एवं ग्रामीण विकास योजनाओं के मैनुअल तथा केसर की खेती पर सीडी का विमोचन किया।

इस अवसर पर डॉ. चरणदास महंत, कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री, भारत सरकार भी उपस्थित थे।

84वीं आईसीएआर सोसायटी की वार्षिक आम बैठक इससे पूर्व, डॉ. एस. अय्यप्पन, सचिव, डेयर एवं महानिदेशक, आईसीएआर ने वर्ष 2012-13 के दौरान आईसीएआर की उपलब्धियों की एक झलक प्रदर्शित की। उपलब्धियों का वर्णन करते हुए उन्होंने कहा कि, "महिमा के जन्म के साथ हमने क्लोन भैंस में सामान्य प्रजनन प्रक्रिया का प्रदर्शन किया।" डॉ. अय्यप्पन ने बताया कि 14 देशों के 300 से अधिक वैज्ञानिक समूह टमैटो जीनोम कंसोर्शियम (टीजीसी) ने परिष्कृत टमाटर (सोलानम लाइक्रोपर्सिकोन) तथा इसकी निकटतम वन्य प्रजाति एस. पिम्पाइनलिपोलियम के जीनोम को डिकोड करने में सफलता अर्जित की है। 84वीं आईसीएआर सोसायटी की वार्षिक आम बैठक

श्री अरविंद आर. कौशल, अतिरिक्त सचिव, डेयर एवं सचिव, आईसीएआर ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

वार्षिक आम बैठक में आईसीएआर के वरिष्ठ अधिकारियों के अतिरिक्त राज्यों के कृषि एवं पशुपालन मंत्रियों, आईसीएआर शासी निकाय के सदस्यों तथा अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने भी भाग लिया। .

(स्रोतः एनएआईपी मास मीडिया परियोजना, डीकेएमए, आईसीएआर)