विश्व पशु चिकित्सा दिवस

27 अप्रैल, 2013, करनाल

World Veterinary Day 2013 was celebrated at National Dairy Research Institute, Karnal on 27th April 2013राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान (एनडीआरआई), करनाल में 27 अप्रैल, 2013 को विश्व पशु चिकित्सा दिवस का आयोजन किया गया। डॉ. के.एस. डांगी, महानिदेशक, पशु पालन और डेयरी विभाग, हरियाणा ने इस समारोह का उद्घाटन करते हुए किसानों से पशुओं को नियमित टीकाकरण करवाने का आग्रह किया। पशु उत्पादन के साथ ही मानव स्वास्थ्य के लिए भी यह लाभदायक है।

डॉ. ए.के. श्रीवास्तव, निदेशक और कुलपति, एनडीआरआई ने इस समारोह की अध्यक्षता की और बर्ड फ्लू, इसके लक्षण, निदान और मुर्गियों को इससे बचाने के तरीके पर संभाषण दिया। उन्होंने जोर देकर कहा कि आम धारणा के विरुद्ध, बर्ड फ्लू को उपयुक्त टीकाकरण कार्यक्रम से नियंत्रण किया जा सकता है। स्वच्छतापूर्ण रखरखाव वाले कुक्कुट अंडों और मांस का प्रयोग करना पूर्णतया सुरक्षित है। इस कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि डॉ. रामेश्वर सिंह, परियोजना निदेशक, डीकेएमए, भा.कृ.अनु.प. ने कहा कि एनडीआरआई में कई पशुधन सुधार प्रौद्योगिकियां उपलब्ध हैं और किसान उनका भरपूर उपयोग करें।

World Veterinary Day 2013 was celebrated at National Dairy Research Institute, Karnal on 27th April 2013World Veterinary Day 2013 was celebrated at National Dairy Research Institute, Karnal on 27th April 2013

एनडीआरआई और हरियाणा के रिटायर पशु चिकित्सक डॉ. आर.एस. सिंह, डॉ. आर.एस. लुडरी, डॉ. आर.पी. गुप्ता, डॉ. एम.पी.एस. तोमर, डॉ. वी.एम. धवन, डॉ. एन.के. महानी और डॉ. जयपाल सिंह को पशुचिकित्सा व्यवसाय में उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया गया। फैकल्टी, छात्रों और किसानों ने इस कार्यक्रम में भाग लिया।

(स्रोतः एनडीआरआई, करनाल)
(हिन्दी प्रस्तुतिः एनएआईपी मास मीडिया परियोजना, कृषि ज्ञान प्रबंध निदेशालय, आईसीएआर)