श्री शरद पवार ने वैज्ञानिकों से रोपण सामग्री की गुणवत्ता बढ़ाने का आह्वान किया

28 मार्च 2013, चेताल्ली

श्री शरद पवार, केन्द्रीय कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री ने 28 मार्च, 2013 को भारतीय बागवानी अनुसंधान संस्थान (आईआईएचआर) के अन्तर्गत कार्यरत केन्द्रीय बागवानी परीक्षण केन्द्र, चेत्ताली, कुर्ग का दौरा किया। 

Shri Sharad Pawar, Union Minister of Agriculture and Food Processing Industries visited Central Horticultural Experiment Station (CHES), Chettalli, Coorg District

श्री पवार ने विशेषतौर पर कुर्ग मंडारिन और भविष्य के फलों पर इस केन्द्र में चल रहे अनुसंधान कार्यों की सराहना की। उन्होंने उत्पादकों और निजी नर्सरियों के सहयोग से रोपण सामग्री की गुणवत्ता बढ़ाने पर भी जोर दिया। श्री पवार ने वैज्ञानिकों और किसानों से बातचीत की और किसानों से उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी भी ली। उन्होंने आश्वासन दिया कि किसानों की समस्याओं के समाधान के आवश्यक प्रयत्न किये जायेंगे।

डॉ. ए.एस. सिद्धू, निदेशक, आईआईएचआर ने श्री पवार का स्वागत किया और केन्द्र के बारे में संक्षिप्त जानकारी दी। आईआईएचआर के तहत कार्यरत तीन केन्द्रीय बागवानी परीक्षण केन्द्रों में से चेत्ताली केन्द्र सबसे पुराना केन्द्र है और आर्द्र शीतोष्ण की बागवानी से सम्बन्धित समस्याओं के समाधान पर कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि इस केन्द्र ने नीबू वर्गीय, पपीता, पैशन फ्रूट, रामबटन और पैपर जैसी फसलों की कई अनूठी किस्में और उत्पादन प्रौद्योगिकियां विकसित की हैं। इस केन्द्र पर लगभग 40 फलों का संग्रह है इसमें कई भविष्य के फल भी शामिल हैं। इसलिए इस केन्द्र को 'भविष्य फलदार बागवानी फसलों के लिए उत्कृष्ट केन्द्र' का दर्जा मिलना चाहिए। डॉ. सी.पी. त्रिपाठी, प्रमुख, सीएचईएस ने इस केन्द्र की गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। भा.कृ.अनु.प. संस्थानों के निदेशक और कई स्थानीय प्रगतिशील किसान इस अवसर पर उपस्थित थे।

(स्रोतः आईआईएचआर, बेंगलुरू)
(हिन्दी प्रस्तुतिः एनएआईपी मास मीडिया परियोजना, कृषि ज्ञान प्रबंध निदेशालय)