कृषि उन्नति मेले के समापन समारोह में किसानों को सम्मान

21st मार्च 2016, नई दिल्ली

तीन-दिवसीय (19-21मार्च, 2016) कृषि उन्नति मेले के समापन समारोह में देश के विभिन्न राज्यों के प्रगतिशील किसानों को सम्मानित किया गया। यह मेला भाकृअनुप-भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली के विशाल परिसर में आयोजित किया गया था।

Krishi Unnati Mela Closes by Felicitating FarmersKrishi Unnati Mela Closes by Felicitating FarmersKrishi Unnati Mela Closes by Felicitating Farmers

श्री राधा मोहन सिंह, केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ने अपने संबोधन में नई तकनीकों व नवोन्मेषों द्वारा किसानों की आय वृद्धि की बात पर जोर देते हुए किसानों से कहा कि वे इन्हें तेजी से अपनाएं। उन्होंने ‘पूसा कृषि’ नामक मोबाइल एप को जारी किया और कहा कि ‘पूसा कृषि’ एप के माध्यम से भाकृअनुसं द्वारा विकसित उच्च उत्पादकता वाली किस्मों तथा तकनीकों की सूचनाएं शीघ्रता से किसानों तक पहुंचेंगी। उन्होंने कहा कि आधुनिक तकनीकें और फसल किस्में किसानों तक शीघ्रता से पहुंचनी चाहिए तथा किसानों में इनके प्रति विश्वास बनाने के लिए इनके प्रदर्शन किसानों के खेतों पर करने चाहिए।

डॉ. संजीव कुमार बालियान एवं श्री मोहनभाई कुंडारिया, राज्य मंत्री, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय ने मेले के सफल आयोजन तथा किसानों की उत्साहपूर्ण भागीदारी की प्रशंसा की।

Krishi Unnati Mela Closes by Felicitating FarmersKrishi Unnati Mela Closes by Felicitating Farmers

माननीयों द्वारा किसानों को भाकृअनुसं-नवोन्मेषी किसान एवं भाकृअनुसं-फैलो किसान पुरस्कार प्रदान किये गए, जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं।

पूरे देश से आये किसानों की बड़ी संख्या ने मेले से लाभदायक ज्ञान एवं सूचनाएं प्राप्त कीं। 

यह विशाल आयोजन कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार ने भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के सहयोग द्वारा संपन्न किया। पूरे देश में स्थित भाकृअनुप के संस्थानों ने मेले में भाग लिया तथा नवोन्मेषों व कृषि उत्पादों की प्रदर्शनी की।

(स्रोतः भाकृअनुप-डीकेएमए, नई दिल्ली)