कैबिनेट द्वारा नई फसल बीमा योजना – प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का अनुमोदन – कृषि क्षेत्र के लिए एक वरदान

13 जनवरी, 2016, नई दिल्‍ली

माननीय प्रधानमंत्री की अध्‍यक्षता में आज यहां केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना– किसानों के कल्‍याण के लिए एक अग्रणी योजना का अनुमोदन किया गया।

इस योजना की विशेषताएं इस प्रकार हैं :

  1. किसानों को सभी तरह की खरीफ फसलों के लिए कुल बीमा राशि का एक समान केवल 2 प्रतिशत, सभी तरह की रबी फसलों के लिए एक समान 1.5 प्रतिशत प्रीमियम राशि का ही भुगतान करना होगा।  वार्षिक व्‍यावसायिक और बागवानी फसलों के लिए किसानों द्वारा कुल बीमा राशि की  केवल 5 प्रतिशत प्रीमियम राशि का ही भुगतान करना होगा। किसानों द्वारा भुगतान की  जाने वाली प्रीमियम की दर बहुत कम है और प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले फसल नुकसान के लिए किसानों को पूरी बीमा राशि मिलने के लिए शेष प्रीमियम राशि का भुगतान सरकार द्वारा किया जाएगा ।
  2. इस योजना में सरकारी सब्सिडी की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। यहां तक कि यदि शेष प्रीमियम 90 प्रतिशत है, तब भी उसका वहन सरकार द्वारा किया जाएगा।
  3. इससे पहले, प्रीमियम दर पर कैपिंग का प्रावधान था जिसके कारण किसानों को कम दावे का भुगतान किया जा रहा था। यह कैपिंग प्रीमियम सब्सिडी पर सरकारी खर्च को सीमित करने के लिए लगाई गई थी। इस कैपिंग को अब हटा लिया गया है और किसान बिना किसी कटौती के पूरी बीमा राशि पर दावा ले सकेंगे।
  4. व्‍यापक पैमाने पर प्रौद्योगिकी के उपयोग को बढ़ावा दिया जाएगा। किसानों को दावों के भुगतान में देरी से बचने के लिए काटी गई फसल के डाटा को अपलोड करने में स्‍मार्ट फोन का इस्‍तेमाल किया जाएगा। फसल कटिंग परीक्षणों की संख्‍या में कमी लाने के लिए रिमोट सेन्सिंग का उपयोग किया जाएगा।  

 नई फसल बीमा योजना एक राष्‍ट्र – एक योजना की तर्ज पर है। इसमें पिछली सभी सर्वश्रेष्‍ठ योजनाओं की विशेषताओं को शामिल किया गया है और पिछली कमियों अथवा कमजोरियों को हटा दिया गया है।

क्र.सं.

कारक

एनएआईएस
[1999]

एमएनएआईएस
[2010]

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

1.

प्रीमियम दर

कम

उच्‍च

यहां तक कि एनएआईएस से भी कम (सरकार द्वारा किसान की तुलना में 5 गुणा योगदान)

2.

एक सीजन – एक प्रीमियम

हां

नहीं

हां

3.

शामिल बीमा राशि

पूरी

कैप्‍ड

पूरी

4.

खाते पर भुगतान

नहीं

हां

हां

5.

स्‍थानीकृत जोखिम कवरेज 

नहीं

ओलावृष्टि
भूस्‍खलन

ओलावृष्टि
भू-स्‍खलन
बाढ़

6.

कटाई उपरांत नुकसान कवरेज

नहीं

चक्रवाती वर्षा के लिए तटवर्ती क्षेत्र

अखिल भारत – चक्रवाती व  बेमौसमी वर्षा के लिए

7.

बुवाई कवरेज की रोकथाम

नहीं

हां

हां

8.

प्रौद्योगिकी का उपयोग (दावों के त्‍वरित निपटान हेतु)

नहीं

इरादतन

अधिदेशित

9.

जागरूकता

नहीं

नहीं

हां (50 प्रतिशत तक दोगुनी कवरेज का लक्ष्‍य)

एक राष्‍ट्र – एक योजना : पिछली सभी योजनाओं के सर्वश्रेष्‍ठ कारकों को शामिल किया गया है तथा साथ पिछली सभी कमियों/कमजोरियों को हटा दिया गया है।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

(Source: http://pmindia.gov.in/)