महानिदेशक, भाकृअनुप का अंतर विश्‍वविद्यालय युवा महोत्‍सव में सम्‍बोधन

13-14 अप्रैल, 2016, करनाल

डॉ. त्रिलोचन महापात्र, सचिव, डेयर एवं महानिदेशक, भाकृअनुप. ने दिनांक 13 अप्रैल, 2016 को भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय डेरी अनुसंधान संस्‍थान, करनाल में आयोजित अंतर-विश्‍वविद्यालय युवा महोत्‍सव ( Reverie - 2K16 ) के समापन समारोह में मुख्‍य अतिथि के रूप में समारोह की शोभा बढ़ाई। एनडीआरआई छात्रसंघ द्वारा Reverie-2K – एक वार्षिक अंतर-विश्‍वविद्यालय युवा महोत्‍सव का आयोजन किया गया था। महानिदेशक महोदय ने कहा कि मनोरंजन के साथ साथ ऐसी गतिविधियां भी साथियों के साथ सामाजिक बनने का एक तरीका हैं और इससे जहां छात्र एक ओर अपने समय प्रबंधन में सुधार ला सकते हैं वहीं दूसरी ओर इससे तनाव को दूर रखने में मदद मिलती है ।

DG, ICAR Addresses Inter University Youth Festival DG, ICAR Addresses Inter University Youth Festival

डॉ. महापात्र ने नेशनल एकेडमी ऑफ डेयरी साइन्सिज भारत (NADSI) द्वारा दिनांक 14 अप्रैल, 2016 को पोषणिक औषध विज्ञान पर  आयोजित व्‍याख्‍यान माला का उद्घाटन किया।

विज्ञान को विकास का माध्यम बताते हुए डॉ. महापात्र ने बताया कि विज्ञान की मदद से प्रौद्योगिकी की बुनियाद रखने में मदद मिलती है जिससे राष्‍ट्र के विकास में मदद मिलती है, इसलिए वैज्ञानिकों द्वारा डेरी सेक्‍टर में महसूस की जा रहीं चुनौतियों का समाधान करने में उपभोक्‍ता मित्रवत प्रौद्योगिकी के विकास में कहीं ज्‍यादा योगदान करना चाहिए। डॉ. महापात्र ने एनएडीएसआई का लोगो भी जारी किया। उन्‍होंने संस्‍थान के छात्रों, संकाय सदस्‍यों और अन्‍य स्‍टॉफ सदस्‍यों से पारस्‍परिक बातचीत की। इसके साथ ही उन्‍होंने केन्‍द्रीय मृदा लवणता अनुसंधान संस्‍थान (CSSRI) तथा भारतीय गेहूं व जौ अनुसंधान संस्‍थान (IIWBR)  में स्थित सुविधाओं का भी दौरा किया और वहां वैज्ञानिकों से पारस्‍परिक बातचीत की।

डॉ. ए.के. श्रीवास्‍तव, निदेशक एवं कुलपति, भाकृअनुप – एनडीआरआई ने एनडीआरआई के साथ साथ एनएडीएसआई की उपलब्धियों को प्रस्‍तुत किया।

(स्रोत : भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय डेरी अनुसंधान संस्‍थान, करनाल)