भाकृअनुप- वीपीकेएएस का 93वां स्थापना दिवस

3-4 जुलाई, 2016, अल्मोड़ा

93rd Foundation Day of ICAR-VPKASभाकृअनुप- विवेकानंद पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान (वीपीकेएएस) द्वारा 4 जुलाई, 2016 को 93 वां स्थापना दिवस मनाया गया।

डॉ. त्रिलोचन महापात्र, सचिव, डेयर एवं महानिदेशक, भाकृअनुप ने प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए संयुक्त प्रयास का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि चारा व फल देने वाले तथा मृदा को बांधने वाले वैज्ञानिक वृक्षारोपण के साथ ही बादल फटने की आशंका वाले क्षेत्रों में ढलानों पर सीढ़ीदार बनावट भारी वर्षा की स्थिति में मृदा के कटाव को रोक सकती है। डॉ. महापात्र ने कहा कि पहाड़ियों के लिए रबर बांध तकनीक उपयोगी हो सकती है। इसके साथ ही उन्होंने भाकृअनुप- वीपीकेएएस द्वारा विकसित पॉली टैंक वाटर को राज्य के लिए उपयोगी बताते हुए मछली पालन व सब्जी की खेती पॉलीटैंक में करने की बात कही। महानिदेशक महोदय ने यह सलाह दी कि वेबसाइट व एसएमएस के अलावा संस्थान मोबाइल एप्स के द्वारा भी किसानों तक पहुंच सकते हैं।

डॉ. महापात्र ने 3 जुलाई, 2016 को संस्थान में एक वृहद मशरूम कंपोस्टिंग सुविधा केन्द्र का भी उद्घाटन किया।

स्वामी सोमदेवानंद, रामकृष्ण मिशन, अल्मोड़ा ने इस अवसर पर श्रोताओं को आशीष देते हुए स्वामी विवेकानंद के विज्ञान व कृषि से संबंधित उपदेशों का सार बताया।

डॉ. ए.के पटनायक, निदेशक, वीपीकेएएस ने संस्थान की अनुसंधान उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी।

93rd Foundation Day of ICAR-VPKAS93rd Foundation Day of ICAR-VPKAS93rd Foundation Day of ICAR-VPKAS

इस अवसर पर एक पुस्तक का भी विमोचन किया गया तथा संस्थान के वैज्ञानिकों व स्टॉफ सदस्यों को पुरस्कार भी प्रदान किए गए।

भाकृअनुप मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों तथा भाकृअनुप के स्थानीय सस्थानों के निदेशकगण ने इस कार्यक्रम में भाग लिया।

(स्रोतः भाकृअनुप- विवेकानंद पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, अल्मोड़ा)