केन्‍द्रीय कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्री ने किया कटक में किसान मेले का उद्घाटन

9 मई, 2016, कटक

श्री राधा मोहन सिंह, माननीय केन्‍द्रीय कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्री ने आज यहां भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय चावल अनुसंधान संस्‍थान, कटक द्वारा आयोजित किए गए किसान मेले का उद्घाटन किया। अपने उद्बोधन में माननीय मंत्री महोदय ने केन्‍द्र सरकार द्वारा प्रायोजित अनेक योजनाओं के लाभ के बारे में विस्‍तार से बताया जैसे कि प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना; प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना; मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड; ई-राष्‍ट्रीय कृषि बाजार, ग्रामोदय से भारत उदय अभियान; मेरा गांव – मेरा गौरव तथा जैविक खेती आदि। माननीय मंत्री महोदय ने नई तकनीकों का प्रदर्शन करने के लिए मेरा गांव – मेरा गौरव कार्यक्रम के तहत गांवों को अपनाने पर जोर दिया। उन्होंने 11 प्रतिशत की प्रोटीन मात्रा वाली प्रोटीन से भरपूर चावल की किस्‍म सीआर धान 310 को विकसित करने हेतु भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय चावल अनुसंधान संस्‍थान, कटक द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की तथा साथ ही किसानों के लाभ के लिए गूगल प्‍लेस्‍टोर में उपलब्‍ध मोबाइल ऐप ‘राइस एक्‍स्‍पर्ट’ का विकास करने के लिए भी संस्‍थान की सराहना की।

Union Minister for Agriculture and Farmers Welfare inaugurated Farmers Fair at CuttackUnion Minister for Agriculture and Farmers Welfare inaugurated Farmers Fair at CuttackUnion Minister for Agriculture and Farmers Welfare inaugurated Farmers Fair at CuttackUnion Minister for Agriculture and Farmers Welfare inaugurated Farmers Fair at Cuttack

मंत्री महोदय ने  चार प्रकाशनों का विमोचन किया और कृषि के विभिन्‍न पहलुओं को दर्शाने वाली प्रदर्शनी का उद्घाटन किया।

श्री धर्मेन्‍द्र प्रधान, माननीय केन्‍द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) ने अपने संबोधन में शीत भंडार गृहों, बाजार तथा अन्‍य कृषि बुनियादी सुविधाओं को बड़ी संख्‍या में स्‍थापित करने पर जोर दिया।

श्री भतृहरि मेहताब, माननीय सांसद (लोक सभा), कटक ने वैज्ञानिकों को जलवायु परिवर्तन और जल संरक्षण तकनीक पर प्रभावी तरीके से कार्य करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि सफलता तभी कदम चूमेगी जब प्रौद्योगिकियों का हस्‍तांतरण प्रयोगशाला से खेत तक किया जाएगा।

डॉ. त्रिलोचन महापात्र, सचिव, डेयर एवं महानिदेशक, भाकृअनुप ने देश में विशेषकर पूर्वी भारत में कृषि के विकास के लिए केन्‍द्र सरकार की नीतियों और योजनाओं पर प्रकाश डाला।

श्री छबिलेन्‍द्र राऊल, अपर सचिव, डेयर एवं सचिव, भाकृअनुप ने अनुसंधान उपलब्धियों के लिए भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय चावल अनुसंधान संस्‍थान, कटक की सराहना की।

प्रो. (डॉ.) एस. पसुपालक, कुलपति, ओयूएटी, भुबनेश्वर  तथा डॉ. अनुपम मिश्रा, निदेशक, अटारी, जोन-7, जबलपुर ने भी उपस्थित जनों को सम्‍बोधित किया।

इस कार्यक्रम में बड़ी संख्‍या में लोगों ने भाग लिया और नौ नवोन्‍मेषी किसानों व कृषिरत महिलाओं को सम्‍मानित किया गया।

डॉ. ए.के. नायक, निदेशक, भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय चावल अनुसंधान संस्‍थान, कटक ने धन्‍यवाद ज्ञापन प्रस्‍तुत किया।

(स्रोत : भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय चावल अनुसंधान संस्‍थान, कटक)