टीके व निदान पर भाकृअनुप - सीआरपी की वार्षिक समीक्षा बैठक

16 जून 2016, बेंगलुरू

टीके और निदान पर भाकृअनुप - भागीदारी अनुसंधान मंच (सीआरपी) की वार्षिक समीक्षा बैठक का आयोजन भाकृअनुप - भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (आईवीआरआई), बेंगलुरू परिसर में 16 जून, 2016 को किया गया।

Annual Review Meeting of ICAR-CRP on Vaccines and Diagnostics Annual Review Meeting of ICAR-CRP on Vaccines and Diagnostics

डॉ. एच. रहमान, उपमहानिदेशक (पशु विज्ञान), भाकृअनुप ने अपने अध्यक्षीय भाषण में जोर देकर कहा कि सीआरपी में व्यक्तिगत परियोजना के माध्यम से अंतर-क्षेत्रीय सहयोग द्वारा प्रौद्योगिकी/उत्पादों को विकसित करने का लक्ष्य रखना चाहिए। इसके साथ ही इन तकनीकों व उत्पादों को किसानों के खेतों में तत्काल परीक्षण और हस्तक्षेप लिए उपलब्ध कराया जाना चाहिए।

डॉ. आर.के. सिंह, निदेशक व कुलपति, भाकृअनुप – आईवीआरआई, बरेली ने अपने संबोधन में जोर देकर कहा कि संघ के उद्देश्य की प्रणाली/उद्देश्य की अधिकतम सीमा को केवल इस परियोजना के प्रमुख जांचकर्ताओं द्वारा पशुधन, मत्स्य पालन और कृषि घटकों के बीच प्रभावी संवाद द्वारा ही पूरा किया जा सकता है।

डॉ. अशोक कुमार, अतिरिक्त महानिदेशक (पशु स्वास्थ्य), भाकृअनुप, नई दिल्ली, ने उद्यौगिक भागीदारों के साथ मिलकर टीके और निदान के विकास में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद की प्रतिबद्धता के बारे में चर्चा की।

डॉ. बी. पी. श्रीनिवास, योजना समन्वयक, टीका एवं निदान पर सीआरपी ने योजना के अवलोकन पर प्रस्तुति दी।

देश में स्थित भाकृअनुप के विभिन्न संस्थानों के लगभग 46 वैज्ञानिकों ने इस दो दिवसीय वार्षिक समीक्षा बैठक में भाग लिया।

(स्रोतः भाकृअनुप – भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान, बेंगलूरू)