महानिदेशक भाकृअनुप द्वारा कृषि क्षेत्र में जल प्रबंधन के लिए उन्नत प्रौद्योगिकियों के अपनाने पर बल

1 अक्टूबर, 2016, भुबनेश्वर

डॉ. त्रिलोचन महापात्र, सचिव, डेयर एवं महानिदेशक, भाकृअनुप द्वारा 1 अक्टूबर, 2016 को भाकृअनुप - भारतीय जल प्रबंधन संस्थान, भुबनेश्वर का दौरा किया गया। संस्थान के वैज्ञानिकों को संबोधित करते हुए डॉ. त्रिलोचन महापात्र ने कृषि क्षेत्र में जल प्रबंधन के लिए उन्नत तकनीकों को अपनाने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने वर्षा आधारित कृषि क्षेत्र, समान नहर जल वितरण, अपशिष्ट जल प्रयोग तथा जलभराव वाले क्षेत्रों में प्रौद्योगिकी प्रसार तथा उचित प्रौद्योगिकियों को अपनाने पर बल दिया।

Need to replicate the cutting edge technologies in the field of Agricultural water management, stressed DG, ICARNeed to replicate the cutting edge technologies in the field of Agricultural water management, stressed DG, ICAR

महानिदेशक महोदय ने संस्थान के कर्मचारियों से ‘स्वच्छता अभियान’ योजना को सफल बनाने के लिए आग्रह किया और राष्ट्र को एक नई ऊंचाई तक ले जाने के उद्देश्य से कर्मचारियों से संपूर्ण स्वच्छता का आह्वान किया।

पीएमकेएसवाई के तहत 'जलभराव विकास में जल प्रबंधन रणनीतियां' विषय पर प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए डॉ. महापात्र ने पूरे किसान समुदाय के लाभ के लिए विकसित प्रौद्योगिकियों के प्रभावी कार्यान्वयन पर बल दिया।

(स्रोतः भाकृअनुप - भारतीय जल प्रबंधन संस्थान, भुबनेश्वर)