आईसीएआर - एनआरआरआई में 'स्वच्छता पखवाड़ा' समापन समारोह

1 अक्टूबर, 2016, कटक

'स्वच्छ भारत अभियान' के तहत भाकृअनुप – राष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान, कटक में 'स्वच्छता पखवाड़ा' समापन समारोह का आयोजन आज किया गया।

 ‘Swachhata Pakhwada’ at ICAR-NRRI, Cuttack Concluded ‘Swachhata Pakhwada’ at ICAR-NRRI, Cuttack Concluded

श्री बैजयंत ‘जय’ पांडा, सांसद तथा सभा के मुख्य अतिथि ने इस अवसर पर अपने संबोधन में देश के संपूर्ण विकास के लिए व्यक्तिगत, पारिवारिक, गांव कार्यालय एवं क्षेत्रीय स्तर पर स्वच्छता की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि स्वच्छता सुंदरता के दृष्टिकोण के साथ ही स्वस्थ एवं बीमारियों से मुक्त समाज के लिए अनिवार्य है। इसके लिए उचित स्तर पर ठोस एवं तरल कूड़ा प्रबंधन की सुविधाओं और अन्य विभिन्न पहलुओं का समायोजन जरूरी है। श्री पांडा ने स्वच्छता को लेकर बच्चों में समझदारी विकसित करने पर बल दिया जो स्वयं के साथ-साथ समुदाय, समाज, कार्यालयों, गांवों, शहरों, राज्यों और देश को स्वच्छ बनाने के लिए ग्रामीण और शहरी समूहों को मार्गदर्शित करने का कार्य करेंगे।

डॉ. हिमांशु पाठक, निदेशक, आईसीएआर – एनआरआरआई ने एक पखवाड़े तक चले स्वच्छता अभियान के तहत ‘स्वच्छता पखवाड़ा’ के अवसर पर आयोजित जागरूकता शिविर, सेमिनार, खेत प्रदर्शन और विभिन्न प्रतियोगिताओं की प्रशंसा की।

इस अवसर पर स्वच्छता’ शीर्षक के तहत प्रश्नोत्तरी, वाद-विवाद, निबंध लेखन एवं चित्रकला जैसी प्रतियोगिताएं आयोजित की गई थी।

'स्वच्छता' विषय के तहत आयोजित प्रश्नोत्तरी, वाद-विवाद, निबंध लेखन और चित्रकला आदि विभिन्न प्रतियोगिताओं के पुरस्कार विजेता स्कूली बच्चों और कर्मचारियों को पुरस्कृत किया गया।

(स्रोत: भाकृअनुप - राष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान, कटक, ओड़िसा)