मत्य््रो जीनोमिक्सर पर अंतर्राष्ट्रीमय कार्यशाला

19 जनवरी, 2015, मुम्‍बई

International Workshop on Fish Genomics organised  भाकृअनुप – केन्‍द्रीय मत्‍स्‍य शिक्षा संस्‍थान (CIFE), मुम्‍बई में दिनांक 19 – 21 जनवरी, 2015 को मत्‍स्‍य जीनोमिक्‍स पर एक अंतर्राष्‍ट्रीय कार्यशाला आयोजित की गई।

कार्यशाला का उद्घाटन डॉ. डब्‍ल्‍यू.एस. लाकड़ा, निदेशक एवं कुलपति,  भाकृअनुप – केन्‍द्रीय मत्‍स्‍य शिक्षा संस्‍थान, मुम्‍बई ने करते हुए परिवर्तनशील विश्‍व में भाकृअनुप वैज्ञानिकों द्वारा ग्‍लोबल नेतृत्‍व करने की आवश्‍यकता बताई।

कार्यशाला में व्‍याख्‍यानों की एक श्रृंखला आयोजित की गई और मत्‍स्‍य जीनोमिक्‍स से जुड़े विभिन्‍न विषयों पर पारस्‍परिक सत्र रखे गए। इनमें शामिल विषय इस प्रकार थे : कैटफिश जीनोमिक्‍स पर एक दृष्टि; अगली पीढ़ी के जीनोमिक अनुक्रम की पीढ़ी एवं एसेम्‍बली; RNA-seq तथा ट्रांसक्रिप्‍टोम की एसेम्‍बली; जैव सूचनाप्रणाली माइनिंग तथा डीएनए मार्करों का आनुवंशिक विश्‍लेषण; एलेल विशिष्‍ट जीन प्रकटीकरण; एसएनपी सरणी का विकास तथा डीएनए मार्करों का आनुवंशिक विश्‍लेषण आदि ।

प्रो. झानजियांग (जॉन) लियू, एसोसिएट प्रोवोस्‍ट एवं अनुसंधान के लिए एसोसिएट वाइस प्रेजीडेंट, तथा प्रोफेसर, स्‍कूल ऑफ फिशरीज, एक्‍वाकल्‍चर एंड एक्‍वेटिक साइन्सिज, अयूबर्न यूनिवर्सिटी, संयुक्‍त राज्‍य अमेरिका,  कार्यशाला के प्रमुख संसाधन व्‍यक्ति थे।

इस कार्यशाला में कुल 144 प्रतिभागियों ने भाग लिया जिनमें भाकृअनुप – केन्‍द्रीय मत्‍स्‍य शिक्षा संस्‍थान, मुम्‍बई एवं अन्‍य मात्स्यिकी अनुसंधान संस्‍थानों के वैज्ञानिक तथा छात्र शामिल थे।  

(स्रोत : भाकृअनुप – केन्‍द्रीय मत्‍स्‍य शिक्षा संस्‍थान (CIFE), मुम्‍बई)