फार्म मशीनरी कस्टम हायरिंग सेंटर पर विचारमंथन कार्यशाला

17 अक्टूबर 2016, हैदराबाद

Brainstorming Workshop on Farm Machinery Custom Hiring Centre’s Organizedभाकृअनुप – केन्द्रीय शुष्कभूमि अनुसंधान संस्थान (क्रीडा), हैदराबाद द्वारा एनआईसीआरए (निक्रा) के तहत “फार्म मशीनरी कस्टम हायरिंग सेंटर (सीएचसी) के लिए नीति तैयार करना” विषय पर एक दिवसीय विचार मंथन कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों के लिए सीएचसी के क्रियान्वयन तथा स्थापना के लिए नीति तैयार करना था।

डॉ. सी. श्री निवास राव, निदेशक, भाकृअनुप -क्रीडा ने जमीन स्तर पर खेतों में विभिन्न जलवायु अनुकूल प्रौद्योगिकियों के प्रयोग, परती भूमि में बुआई और जलवायु परिवर्तन से संबंधित मशीनों की आवश्यकता का उल्लेख किया।

श्री मधुसूदन रेड्डी, आईएफएस, कुलपति एवं प्रबंध निदेशक, आंध्र प्रदेश कृषि उद्योग विकास संगठन, हैदराबाद ने कहा कि सेवा के उद्देश्य से निजी एवं सार्वजनिक क्षेत्रों में सीएचसी का संचालन होना चाहिए।

कार्यशाला में विभिन्न हितधारक, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक आदि राज्यों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

(स्रोतः भाकृअनुप – केन्द्रीय शुष्कभूमि अनुसंधान संस्थान, हैदराबाद)