पटसन प्रौद्योगिकियों के व्‍यावसायीकरण का आह्वान

7 मार्च, 2016, कोलकाता

श्री सुखेन्‍दु शेखर राय, माननीय सांसद (राज्‍य सभा) और सदस्‍य, राष्‍ट्रीय पटसन बोर्ड, टैक्‍सटाइल मंत्रालय, भारत सरकार, कोलकाता ने आज यहां भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय पटसन एवं सम्‍बद्ध रेशा प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्‍थान (NIRJAFT), कोलकाता का दौरा किया।  श्री राय ने संस्‍थान की प्रयोगशालाओं और कार्यशालाओं का दौरा किया और वैज्ञानिकों तथा स्‍टॉफ के साथ आपसी बातचीत की। उन्‍होंने इस क्षेत्र में संस्‍थान की उपलब्धियों की सराहना की।

Call for Commercialization of Jute TechnologiesCall for Commercialization of Jute Technologies

श्री राय ने संस्‍थान द्वारा विकसित की गईं प्रौद्योगिकियों और मशीनरी के व्‍यावसायीकरण के लिए आगे आने में पटसन उद्योग की पहल की कमी पर चिंता जताई। इनके दौरे का मूल उद्देश्‍य संस्‍थान द्वारा स्‍थापित किए गए एग्री बिजनेस इनक्‍यूबेशन सेन्‍टर के माध्‍यम से लघु स्‍तरीय एवं छोटे सेक्‍टर वाले उद्योगों द्वारा मानव संसाधन विकास, कौशल संवृद्धि तथा व्‍यवसाय विकास की संभावनाओं का पता लगाना था।

डॉ. देबाशीष नाग, निदेशक, भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय पटसन एवं सम्‍बद्ध रेशा प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्‍थान, कोलकाता ने संस्‍थान की प्रमुख गतिविधियों और उपलब्धियों पर एक संक्षिप्‍त प्रस्‍तुतीकरण दिया।

(स्रोत : भाकृअनुप – राष्‍ट्रीय पटसन एवं सम्‍बद्ध रेशा प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्‍थान, कोलकाता)