केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री राधा मोहन सिंह द्वार केन्द्रीय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान, भोपाल का दौरा

26th सितम्बर, 2014, भोपाल

श्री राधा मोहन सिंह, केन्द्रीय कृषि मंत्री एवं अध्यक्ष, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद ने 26 सितंबर 2014 को भोपाल स्थित केन्द्रीय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान का दौरा किया। इस अवसर पर उनके साथ श्री गौरीशंकर बिसेन, किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री, मध्य प्रदेश एवं सुश्री कुसुम महदेले, पशुपालन, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण, मछुआ कल्याण एवं मत्स्य विकास, कुटीर एवं ग्रामोद्योग, विधि एवं विधायी कार्य मंत्री, मध्य प्रदेश उपस्थित थे।

कृषि मंत्री ने भोपाल में स्थित भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के संस्थानों के समस्त वैज्ञानिक, अधिकारी एवं कर्मचारियों की संयुक्त सभा को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने परिषद के भोपाल स्थित विभिन्न संस्थानों के कार्यकलापों की प्रशंसा करते हुए कहा कि किसान को विकसित करना एक पुण्य कार्य है लेकिन हमें इस विकास के साथ-साथ पर्यावरण के प्रति अपनी भूमिका का ध्यान रखना होगा। उन्होंने जोर देकर कहा कि परिषद के अनुसंधानकार्य की दिशा सही है और गति बढ़ाने की आवश्यकता है, जिससे छोटे से छोटे किसानों तक अनुसंधान का लाभ पहुंच सके। उन्होंने कहा कि कुशल नेतृत्व ही कार्यक्रमों का क्रियान्वयन तेजी से कर पाता है और इसीलिए अनुसंधान कार्यक्रम में सुप्रशिक्षित एवं अनुभवी मानव शक्ति की आवश्यकता है।

कार्यक्रम में भोपाल स्थित भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के तीन संस्थानों के निदेशक डॉ. के. के. सिंह, केन्द्रीय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान; डॉ. ए. के. पात्रा, भारतीय मृदा विज्ञान संस्थान; डॉ. डी.डी. कुलकर्णी, राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग प्रयोगशाला एवं इन्दौर स्थित सोयाबीन अनुसंधान निदेशालय के निदेशक डॉ. एस.के. श्रीवास्तव भी उपस्थित थे।

(स्रोतः केन्द्रीय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान, भोपाल)