भाकृअनुप-क्रिडा ने मनाया 37वाँ स्थापना दिवस

12 अप्रैल, 2021, हैदराबाद

भाकृअनुप-केंद्रीय बारानी कृषि अनुसंधान संस्थान, हैदराबाद ने अपना 37वाँ स्थापना दिवस मनाया।

डॉ. सुरेश कुमार चौधरी, उप महानिदेशक (प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन), भाकृअनुप ने बतौर मुख्य अतिथि ने भाकृअनुप-क्रिडा की आकस्मिक योजनाओं को प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन डिवीजन और भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के लिए गौरवपूर्ण योगदान माना। उन्होंने विभिन्न राज्य सरकारों के साथ काम करके प्रौद्योगिकियों को बढ़ाने के लिए वैज्ञानिकों से आग्रह किया। उप महानिदेशक ने पशुधन और रेंज प्रबंधन सहित पारिस्थितिकी तंत्र प्रबंधन पर काम करने पर जोर दिया।

ICAR-CRIDA celebrates 37th Foundation Day  ICAR-CRIDA celebrates 37th Foundation Day

डॉ. एस. भास्कर, अतिरिक्त महानिदेशक (एएएफ और सीसी), भाकृअनुप ने क्षेत्र की मिट्टी और वर्षा की स्थिति को देखते हुए स्थान-विशेष योग्य प्रौद्योगिकियों को बाहर लाने के लिए संस्थान के सराहनीय कार्यों और प्रयासों की सराहना की। उन्होंने भाकृअनुप-क्रिडा के काम पर भी प्रकाश डाला जिसके परिणामस्वरूप वाटरशेड प्रबंधन के कई मॉडल विकसित हुए हैं। उन्होंने आने वाले समय में जिला कृषि अनुकूलन योजनाओं को लागू करने की आवश्यकता पर बल दिया।

डॉ. वी. के. सिंह, निदेशक, भाकृअनुप-क्रिडा ने इससे पहले अपने स्वागत संबोधन में कहा कि संस्थान विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के अनुभवों का भागीदार रहा है। निदेशक द्वारा पिछले वर्ष के दौरान संस्थान की उपलब्धियों पर भी प्रकाश डाला गया। उन्होंने किसानों और अन्य हितधारकों के कौशल विकास और क्षमता निर्माण के लिए संस्थान के योगदान को सराहा।

ICAR-CRIDA celebrates 37th Foundation Day  ICAR-CRIDA celebrates 37th Foundation Day

इस मौके पर भाकृअनुप के विभिन्न प्रकाशन भी जारी किए गए।

संस्थान के कर्मचारी-सदस्यों ने भी कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

(स्त्रोत: भाकृअनुप-केंद्रीय बारानी कृषि अनुसंधान संस्थान, हैदराबाद)