भाकृअनुप-डीएमएपीआर आणंद ने अपना 30वां स्थापना दिवस मनाया

नवंबर 24, 2021, आणंद, गुजरात

भाकृअनुप-औषधीय एवं सुगंधित पादप अनुसंधान संस्थान, आणंद, गुजरात ने आज अपना 30वां स्थापना दिवस का भव्य आयोजन किया।

ICAR-DMAPR, Anand celebrates its 30th Foundation Day

मुख्य अतिथि डॉ. के. बी. कथेरिया, उप-कुलपति, आणंद कृषि विश्वविद्यालय, आणंद, गुजरात ने औषधीय एवं सुगंधित पादप के किस्मों एवं संकरों में एक त्वरित विकास होना चाहिए। उन्होंने इस बात का आग्रह किया कि अनुवाद संबंधित शोध हो जिससे एमएपी हितधारकों को अधिक से अधिक लाभ पहुंचे।

डॉ. के सी दलाल, पूर्व निदेशक, भाकृअनुप-डीएमएपीआर (पहले एनआरसीएमएपी) आणंद ने कहा की आधिक लाभ प्राप्त करने के लिए एमएपीएस उत्पाद का मूल्यवर्धन जरुरी है।

डॉ. सत्यजित रॉय, निदेशक, भाकृअनुप-डीएमएपीआर, आणंद, गुजरात ने पदाधिकारियों के स्वागत संबोधन में निदेशालय की उपलब्धियों, विकास और प्रगति के बारे में जानकारी दी।

(स्रोत: भाकृअनुप-औषधीय एवं सुगंधित पादप अनुसंधान निदेशालय, आणंद, गुजरात)