भाकृअनुप-नार्म में ‘आईपीआर, सर्वाधिकार, औद्योगिक डिजाइन और साहित्यिक चोरी’ पर आभासी प्रशिक्षण कार्यक्रम का हुआ समापन

26 मार्च, 2021, हैदराबाद

भाकृअनुप-राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान प्रबंध अकादमी, हैदराबाद द्वारा 22 से 26 मार्च, 2021 तक तनुवास, चेन्नई के कर्मचारियों के लिए आयोजित ‘बौद्धिक संपदा अधिकार (आईपीआर), सर्वाधिकार (कॉपीराइट), औद्योगिक अभिकल्पना (डिजाइन) और प्लेगरिज़्म (साहित्यिक चोरी)’ पर पाँच दिवसीय आभासी प्रशिक्षण कार्यक्रम आज संपन्न हुआ।

मुख्य अतिथि, डॉ. सी. बालाचंद्रन, कुलपति, तनुवास, चेन्नई ने बौद्धिक संपदा अधिकारों के महत्त्व पर बल दिया। उन्होंने संकाय सदस्यों से विश्वविद्यालय के लाभों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम के अधिगम का उपयोग करने का भी आग्रह किया।

Virtual Training Programme on “IPR, Copyrights, Industrial Design and Plagiarism” concludes at ICAR-NAARM  Virtual Training Programme on “IPR, Copyrights, Industrial Design and Plagiarism” concludes at ICAR-NAARM

डॉ. चौ. श्रीनिवास राव, निदेशक, भाकृअनुप-नार्म, हैदराबाद ने भारतीय कृषि में नवाचारों और आईपीआर की आवश्यकता पर जोर दिया।

कार्यक्रम के दौरान बौद्धिक संपदा अधिकारों, जैसे पेटेंट कानूनों, कॉपीराइट, ट्रेडमार्क, औद्योगिक डिजाइनों और जैव विविधता एवं भौगोलिक संकेतों में आईपीआर की भूमिका आदि के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की गई।

(स्त्रोत: भाकृअनुप-राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान प्रबंध अकादमी, हैदराबाद)