भाकृअनुप-सिबा ने मैसर्स डब्ल्यू.एस. टेलीमैटिक्स प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली के साथ बहु-मापदंड जल गुणवत्ता विश्लेषण उपकरण का किया व्यावसायीकरण

23 जुलाई, 2021, चेन्नई

भाकृअनुप-केंद्रीय खारा जल जीवपालन संस्थान, चेन्नई ने  आज मैसर्स डब्ल्यू.एस. टेलीमैटिक्स प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया।

डॉ. के. पी. जितेंद्रन, निदेशक, भाकृअनुप-सिबा, चेन्नई ने जल गुणवत्ता मापदंडों के तेजी से मापन और कृषि स्तर पर तत्काल निर्णय लेने में जल गुणवत्ता उपकरण के महत्त्व पर प्रकाश डाला। डॉ. जितेंद्रन ने प्रौद्योगिकी को बेहतर बनाने में निरंतर अनुसंधान की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने खारा जल जीवपालन में अनुसंधान एवं विकास बैकस्टॉपिंग में संस्थान की क्षमता को पहचानने के लिए भी मैसर्स डब्ल्यू.एस. टेलीमैटिक्स प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली के निदेशकों - श्री वजीर सिंह दहिया और हर्ष दहिया - की सराहना की।

ICAR-CIBA Commercializes Multi-Parameter Water Quality Analysis Kit to M/s W.S. Telematics Pvt. Ltd., New Delhi

समझौता ज्ञापन का उद्देश्य भाकृअनुप-सिबा बहु-मापदंड जल गुणवत्ता उपकरण का विपणन करना था।

पीएच, घुलित ऑक्सीजन, कार्बोनेट, बाइकार्बोनेट, कुल क्षारीयता, कैल्शियम, मैग्नीशियम, कुल कठोरता, कुल अमोनिया-एन और नाइट्राइट-एन जैसे जल की गुणवत्ता के मापदंडों के ऑन-फार्म (खेत पर) मूल्यांकन के लिए उपकरण फायदेमंद है। यह अजैविक तनाव को कम करने के लिए तुरंत उचित प्रबंधन निर्णय लेने में भी सहायक होता है। कोविड-19 महामारी की वर्तमान स्थिति में प्रयोगशालाओं के गैर-कार्यात्मक होने पर नियमित रूप से जल की गुणवत्ता के मापदंडों की निगरानी एक अतिरिक्त लाभ है।

(स्त्रोत: भाकृअनुप-केंद्रीय खारा जल जीवपालन संस्थान, चेन्नई)