सचिव (डेयर) एवं महानिदेशक (भाकृअनुप) ने जिनिंग प्रशिक्षण केंद्र, भाकृअनुप-सिरकोट, नागपुर का किया दौरा

26 जून, 2022, नागपुर

डॉ. त्रिलोचन महापात्र, सचिव (डेयर) और महानिदेशक (भाकृअनुप) आज यहां भाकृअनुप-केन्द्रीय कपास प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान, नागपुर, महाराष्ट्र के जिनिंग प्रशिक्षण केंद्र के दौरे पर थे।

Secretary (DARE) & Director General (ICAR) visits Ginning Training Centre, ICAR-CIRCOT, Nagpur  Secretary (DARE) & Director General (ICAR) visits Ginning Training Centre, ICAR-CIRCOT, Nagpur

महानिदेशक के साथ, डॉ. सुरेश कुमार चौधरी, उप महानिदेशक (प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन), भाकृअनुप; डॉ. सी.डी. माई, पूर्व अध्यक्ष, कृषि वैज्ञानिक भर्ती बोर्ड, नई दिल्ली; डॉ. बी.एस. द्विवेदी, निदेशक, भाकृअनुप-राष्ट्रीय मृदा सर्वेक्षण और भूमि उपयोग योजना ब्यूरो, नागपुर, महाराष्ट्र; डॉ. वाई.जी. प्रसाद, निदेशक, भाकृअनुप-केन्द्रीय कपास अनुसंधान संस्थान, नागपुर, महाराष्ट्र और डॉ. डी.के. घोष, निदेशक, भाकृअनुप-केंद्रीय सिट्रस अनुसंधान संस्थान, नागपुर, महाराष्ट्र उपस्थित थे।

Secretary (DARE) & Director General (ICAR) visits Ginning Training Centre, ICAR-CIRCOT, Nagpur

इससे पूर्व, डॉ. सुजाता सक्सेना, निदेशक, भाकृअनुप-सिरकोट, मुंबई ने गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।

संस्थान ने, इस अवसर के दौरान, सहयोगी अनुसंधान कार्य और प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण के लिए दो समझौता ज्ञापनों (एमओयू) पर भी हस्ताक्षर किए।

भाकृअनुप-सीआईआरसीओटी (CIRCOT) ने कावड़ी कॉटन ओपनर के अनुकूलन के सहयोगी अनुसंधान कार्य के लिए दुनिया के सबसे बड़े जिन और संबद्ध मशीनरी निर्माता और निर्यातक - मेसर्स बजाज स्टील इंडस्ट्रीज लिमिटेड (बीएसआईएल), नागपुर के साथ समझौता ज्ञापन ( MoU) पर हस्ताक्षर किए।

भाकृअनुप-सीआईआरसीओटी (CIRCOT), मुंबई ने ट्रेपेज़ॉइडल शेप्ड रैपिड बर्निंग ब्रिकेट आधारित श्मशान के प्रौद्योगिकी हस्तांतरण, विनिर्माण और विपणन अधिकारों के लिए मैसर्स सुपर्व हाइजीनिक डिस्पोजल इंडिया प्रा. लिमिटेड (एसएचडीआईपीएल), नागपुर के साथ  एक और समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

डॉ. एम.के. शर्मा, निदेशक और सीईओ, बीएसआईएल, नागपुर; श्री अतुल मारोत्राओ जोटिंग, पार्टनर, एसएचडीआईपीएल और डॉ. सुजाता सक्सेना, निदेशक, भाकृअनुप-सिरकोट, मुंबई ने अपने-अपने संगठनों की ओर से समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए।

(स्रोत: भाकृअनुप-केन्द्रीय कपास प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान, मुंबई, महाराष्ट्र)