कृषि मंत्री सम्मानित करेंगे भा.कृ.अनु.प. और पीपीवी एवं एफआरए पुरस्कार विजेताओं को

नई दिल्ली, 14 जुलाई 2011

माननीय श्री शरद पवार, केंद्रीय कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद ( भा.कृ.अनु.प.) के 83वें स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर 16 जुलाई को विभिन्न वर्गों के भा.कृ.अनु.प. पुरस्कार प्रदान करेंगे।

स्थापना दिवस के मौके पर भा.कृ.अनु.प. का पहला नॉर्मन बोरलॉग पुरस्कार जलवायु परिवर्तन पर प्रभाव डालने वाले उष्णकटिबंधीय धान में मीथेन उत्पादन के लिए प्रतिष्ठित कृषि वैज्ञानिक को प्रदान किया जाएगा। नॉर्मन बोरलॉग पुरस्कार देश में हरित क्रांति को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले प्रसिद्ध कृषि वैज्ञानिक एवं नोबेल पुरस्कार विजेता डॉ. नॉर्मन ई. बोरलॉग के नाम पर दिया जा रहा है।

भा.कृ.अनु.प. द्वारा एक लम्बे समय से कृषि अनुसंधान, शिक्षा एवं विस्तार के क्षेत्र में असाधारण योगदान करने वालों को पुरस्कृत करने की परम्परा रही है। इन विभिन्न पुरस्कृत श्रेणियों में अनुसंधानकर्ताओं के अलावा प्रगतिशील किसान, कृषि पत्रकार, अध्यापक तथा लेखक आदि शामिल हैं। पुरस्कृत करने के इसी क्रम में इस वर्ष कुल 17 विभिन्न श्रेणियों के तहत 85 पुरस्कार विजेताओं को पुरस्कृत किया जा रहा है। पुरस्कार पाने वालों में 13 संस्थान, 59 वैज्ञानिक, 10 किसान और तीन पत्रकार शामिल हैं। इस वर्ष कुल 59 वैज्ञानिकों एवं 10 किसानों में से नौ महिला वैज्ञानिक तथा एक महिला किसान भी पुरस्कृत की जा रही हैं।

इस अवसर पर वर्ष 2009-10 के लिए पहले प्लांट जीनोम उद्धारकर्ता सामुदायिक पुरस्कार भी प्रदान किया जाएगा। कृषि-जैव विविधता के क्षेत्र में पौधा किस्म एवं कृषक अधिकार संरक्षण प्राधिकरण (पीपीवी एवं एफआरए) द्वारा संस्थापित पहली बार दिए जाने वाले इस पुरस्कार के माध्यम से कृषि के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान करने वाले किसानों और कृषक समुदाय को सराहने की कोशिश की गई है।

यह स्थापना दिवस समारोह श्री हरीश रावत, केंद्रीय कृषि, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग एवं संसदीय कार्य राज्य मंत्री और डॉ. चरण दास महंत, केंद्रीय कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री की उपस्थिति में आयोजित किया जाएगा।

(स्रोत : एनएआईपी सब-प्रोजेक्ट मास-मीडिया मोबिलाइजेशन, डीकेएमए)