डॉ. महंत ने गंगा में भारतीय मेजर कॉर्प के संरक्षण पर बल दिया

इलाहाबाद, 28 सितंबर, 2012

डॉ. चरण दास महंत, कृषि और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री, भारत सरकार ने केन्द्रीय अंतर्देशीय मत्स्य अनुसंधान संस्थान के क्षेत्रीय केंद्र इलाहाबाद का दौरा किया। केंद्र की गतिविधियों और उपलब्धियों का मूल्यांकन करते हुए डॉ. महंत ने मूल्यवान स्वदेशी मछली विविधता के प्रभावी संरक्षण और प्रमुख नदियों में विदेशी मछलियों के तेजी से नियंत्रण के लिए संभव तरीकों पर काम करने का सुझाव दिया। उन्होंने खुले पानी क्षेत्र के मत्स्य पालन संसाधनों पर सामान्य और विशेष रूप से उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के झीलों में मछली उत्पादन बढ़ाने की गतिविधियों में केन्द्र द्वारा किए गए कार्य की सराहना की। उन्होंने इलाहाबाद में गंगा नदी और यमुना से पिछले कुछ दशकों से चल रही मछली लैंडिंग जानकारी की रिकॉर्डिंग पर संतोष व्यक्त किया। डॉ. महंत ने गंगा नदी प्रणाली में बहुमूल्य भारतीय प्रमुख कॉर्प के संरक्षण की आवश्यकता पर भी बल दिया।

Dr. Mohant Stressed the Need for Conservation of Indian Major Carps in Gangaडॉ. के.डी. जोशी, प्रधान वैज्ञानिक एवं केन्द्र प्रमुख ने केन्द्र के इतिहास, उपलब्धियों और गतिविधियों के बारे में एक संक्षिप्त प्रस्तुति दी। डॉ. जोशी ने ग्यारहवीं योजना में पूरी की गई परियोजनाओं के परिणामों को विस्तार से बताया। साथ ही उन्होंने बुंदेलखंड क्षेत्र में मछली उत्पादन बढ़ाने की गतिविधियों के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी।

 

 

 

(स्रोत: केन्द्रीय अंतर्देशीय मत्स्य अनुसंधान संस्थान क्षेत्रीय केन्द्र, इलाहाबाद
प्रस्तुति- एनएआईपी मास मीडिया परियोजना, डीकेएमए)