क्षेत्रीय परियोजना निदेशालय, क्षेत्र-II की क्षेत्रीय कार्यशाला

22 अप्रैल, 2013, समस्तीपुर

Dr. R. K. Mittal, Vice Chancellor, RAU, Pusaक्षेत्र-II के बिहार, झारखण्ड, पश्चिम बंगाल और अंडमान एवं निकोबार सहित 80 कृषि विज्ञान केन्द्रों की क्षेत्रीय कार्यशाला राजेन्द्र कृषि विश्वविद्यालय, पूसा, समस्तीपुर, बिहार में 20-22 अप्रैल, 2013 को सम्पन्न हुई। यह कार्यशाला वर्ष 2012-13 की प्रगति की समीक्षा और वर्ष 2013-14 के एक्शन प्लान की तैयार के लिए सम्पन्न की गयी।

डा. आर.के. मित्तल, कुलपति, आरएयू, पूसा, समस्तीपुर ने उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में विचार रखते हुए कृषि विज्ञान केन्द्र कार्मिकों को प्ररेणा देने के लिए एक कार्यक्रम बनाने को कहा जिससे उनकी कार्यक्षमता बढ़ाई जा सके। उन्होंने जोर दिया कि कृषि विज्ञान केन्द्रों को जिला विशिष्ट कृषि-पारिस्थितिकी स्थिति के अनुकूल प्रौद्योगिकी मॉड्यूल विकसित किये जाने चाहिए और धान के रिकार्ड उत्पादन में योगदान के लिए बिहार के कृषि विज्ञान केन्द्रों बधाई दी।

Zonal Workshop of ZPD, Zone-II Zonal Workshop of ZPD, Zone-II

डा. ए.के. सिंह, क्षेत्रीय परियोजना निदेशक, क्षेत्र-II, कोलकाता ने मौजूदा योजना में बजट खर्च की बढ़ोतरी की सूचना दी और कहा कि कृषि विज्ञान केन्द्र स्तर पर बुनियादी सुविधाएं सुदृढ़ होनी चाहिए और सभी कृषि विज्ञान केन्द्रों से आग्रह किया कि सभी गतिविधियों का समुचित दस्तावेज तैयार होना चाहिए।

इस क्षेत्र की कृषि विज्ञान केन्द्रों की वार्षिक प्रगति और एक्शन प्लान पर प्रभावी चर्चा के लिए तीन तकनीकी सत्रों का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर दक्षिण दीनाजपुर, केवीके, पश्चिम बंगाल द्वारा एक प्रकाशन भी जारी किया गया।

इस कार्यशाला में इस क्षेत्र के कृषि विश्वविद्यालयों के निदेशक, विस्तार शिक्षा इस अवसर पर उपस्थित थे।

(स्रोतः क्षेत्रीय परियोजना निदेशालय, क्षेत्र-II, कोलकाता)
(हिन्दी प्रस्तुतिः एनएआईपी मास मीडिया परियोजना, कृषि ज्ञान प्रबंध निदेशालय, आईसीएआर)