महानिदेशक, भाकृअनुप का भूमि उपयोग योजना के विकास पर जोर

20 मई, 2016 बेंगलूरू

डॉ. त्रिलोचन महापात्र, सचिव, डेयर और महानिदेशक, भाकृअनुप ने भाकृअनुप – राष्ट्रीय मृदा सर्वेक्षण एवं भूमि उपयोग नियोजन ब्यूरो, क्षेत्रीय केंद्र, बेंगलुरू का 20 मई, 2016 को दौरा किया। वैज्ञानिकों और अन्य कर्मचारियों के साथ बातचीत में उन्होंने सूखा प्रभावित क्षेत्रों में भूमि उपयोग नियोजन के विकास और क्रियान्वयन पर बल दिया। उन्होंने आग्रह किया कि किसानों द्वारा प्रौद्योगिकी को व्यापक स्तर पर प्रौद्योगिकी अपनाने के लिए प्रदर्शिन आयोजित किये जाये। इसके साथ ही डॉ. महापात्र ने पेडोनेरीयम, मृदा विश्लेषण प्रयोगशालाओं और जीआईएस प्रयोगशाला का दौरा किया।

CAR-National Bureau of Soil Survey and Land Use Planning, Regional Centre, BengaluruCAR-National Bureau of Soil Survey and Land Use Planning, Regional Centre, Bengaluru

डॉ. एस.के. सिंह, निदेशक, भाकृअनुप – एनबीएसएस एंड एलयूपी ने ब्यूरो के प्रमुख कार्यक्रमों के बारे में बताया। इनमें मुख्य तौर पर भूमि संसाधन इन्वेन्टरी (एलआरआई) पर 1:10000 स्केल, एलआरआई डाटाबेस के माध्यम से मृदा भूगौलिक कृषि भूमि उपयोग योजना के विकास के बारे में जानकारी शामिल थी।

डॉ. राजेंद्र हेगड़े, प्रमुख, क्षेत्रीय केंद्र ने केंद्र और ब्यूरो की विभिन्न गतिविधियों और उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी।

(स्रोत: भाकृअनुप – राष्ट्रीय मृदा सर्वेक्षण एंव भूमि उपयोग नियोजन ब्यूरो, क्षेत्रीय केंद्र, बेंगलुरू)