जीनोमिक्स पर भाकृअनुप कंसोर्टियम अनुसंधान मंच की वार्षिक समीक्षा

7 जून 2016, लखनऊ

डॉ. त्रिलोचन महापात्र, सचिव, डेयर एवं महानिदेशक, भाकृअनुप ने जीनोमिक्स पर भाकृअनुप कंसोर्टियम अनुसंधान मंच की वार्षिक समीक्षा कार्यशाला का उद्घाटन किया। इस कार्यशाला को भाकृअनुप - राष्ट्रीय मात्स्यिकी आनुवंशिकी संसाधन ब्यूरो (एनबीएफजीआर), लखनऊ में आज आयोजित किया गया। अपने संबोधन में डॉ. महापात्र ने देश में जीनोमिक्स पर अनुसंधान उपलब्धियों की प्रशंसा की एवं जीनोमिक्स के क्षेत्र में एकत्रित विशाल डेटा के उपयोग में सावधानी बरतने की बात कही। उन्होंने विभिन्न विषयों के सहयोग से नवोन्मेषी विचारों द्वारा प्रभावशाली परिणाम प्राप्त करने पर बल दिया।

Annual Review Workshop of ICAR Consortium Research Platform on Genomics InauguratedAnnual Review Workshop of ICAR Consortium Research Platform on Genomics Inaugurated

डॉ. जे.के. जेना, उपमहानिदेशक (मात्स्यिकी), भाकृअनुप और जीनोमिक्स पर सीआरपी के राष्ट्रीय समन्वयक ने संस्थान द्वारा किए गए कार्यों का अवलोकन प्रस्तुत किया। इसके साथ ही उन्होंने अन्य नेटवर्क अनुसंधान कार्यक्रमों की भी जानकारी दी जो भाकृअनुप – मात्स्यिकी अनुसंधान संस्थान के द्वारा संचालित किए जा रहे हैं।

डॉ. टी.आर. शर्मा, परियोजना निदेशक, भाकृअनुप - राष्ट्रीय पादप जैव प्रौद्योगिकी अनुसंधान केन्द्र, नई दिल्ली और निदेशक, भारतीय कृषि जैव प्रौद्योगिकी संस्थान, रांची ने भारत में जीनोमिक्स अनुसंधान के विकास का सिंहावलोकन प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में प्रौद्योगिकी ने अनुक्रमण और जीनोमिक्स अनुसंधान को बदल दिया है और यह सही समय है कि कार्यात्मक जीनोमिक्स के लिए संरचनात्मक जीनोमिक्स डेटा के उपयोग संबंधी प्रयासों पर ध्यान दिया जाय।

डॉ. रवीन्द्र कुमार, निदेशक (कार्यवाहक), भाकृअनुप - एनबीएफजीआर, लखनऊ ने अतिथियों और प्रतिभागियों का स्वागत किया और कार्यशाला का अवलोकन प्रस्तुत किया।

9 भाकृअनुप अनुसंधान संस्थानों से कार्यक्रम के प्रमुख निरीक्षकों और सह-निरीक्षकों ने इस कार्यशाला में भाग लिया।

(स्रोत: भाकृअनुप - राष्ट्रीय मात्स्यिकी आनुवंशिकी संसाधन ब्यूरो, लखनऊ)