राजस्थान के कृषि एवं पशुपालन मंत्री द्वारा ऊंट अनुसंधान निदेशालय की सराहना

20 अक्टूबर, 2016, बीकानेर

श्री प्रभु लाल सैनी, कृषि एवं पशुपालन मंत्री, राजस्थान द्वारा 20 अक्टूबर, 2016 को भाकृअनुप - ऊंट अनुसंधान निदेशालय, बीकानेर का दौरा किया गया।

Minister of Agriculture and Animal Husbandry of Rajasthan Appreciates NRCC, BikanerMinister of Agriculture and Animal Husbandry of Rajasthan Appreciates NRCC, BikanerMinister of Agriculture and Animal Husbandry of Rajasthan Appreciates NRCC, Bikaner

अपने संबोधन में मंत्री महोदय ने ऊंट संरक्षण पर जोर देते हुए कहा कि राजस्थान सरकार ऊंट पालकों को बढ़ावा देने के लिए ऊंट के बच्चे को एक वर्ष तक पालने के एवज में 10,000 रु. प्रदान करती है। इसके साथ ही उन्होंने पशु आहार योजना के तहत क्षेत्र में उपलब्ध विभिन्न आहार व चारे के इस्तेमाल से ब्लॉक्स तथा टिकिया के रूप में एक संपूर्ण पशु आहार तैयार करने की प्रशंसा की।

डॉ. एन.वी. पाटिल, निदेशक ने एनआरसीसी की उपलब्धियों की प्रशंसा करते हुए यह सूचना दी कि केन्द्र ऊंट के दूध की उपयोगिता को बढ़ावा देने में सफल रहा है जिससे ऊंट पालक ऊंट को दुधारू पशु के रूप भी पाल सकेंगे। उन्होंने कहा कि ऊंटों की घटती जनसंख्या को देखते हुए राजस्थान सरकार के पशुपालन विभाग को विशेष प्रजनन नीति अपनाने की आवश्यकता है।

(स्रोतः भाकृअनुप – राष्ट्रीय ऊंट अनुसंधान केन्द्र, बीकानेर)