खरीफ-पूर्व किसान सम्मेनलन

11 जुलाई, 2015, लखनऊ

कृषि विज्ञान केन्‍द्र, भाकृअनुप – भारतीय गन्‍ना अनुसंधान संस्‍थान, लखनऊ ने आज यहां एक खरीफ-पूर्व किसान सम्‍मेलन आ‍योजित किया।

Pre Kharif Kisan SammelanPre Kharif Kisan Sammelan

श्री कौशल किशोर, सांसद, मोहनलालगंज, लखनऊ सम्‍मेलन के मुख्‍य अतिथि थे जबकि डॉ. ओ.के. सिन्‍हा, निदेशक, भाकृअनुप – भारतीय गन्‍ना अनुसंधान संस्‍थान, लखनऊ ने कार्यक्रम की अध्‍यक्षता की।

मुख्‍य अतिथि श्री कौशल किशोर ने इस बात पर बल दिया कि किसानों को रासायनिक उर्वरकों तथा कीटनाशकों का  अंधाधुंध प्रयोग करने से बचना चाहिए। इन्‍होंने कहा कि हमें अपने पारम्‍परिक ज्ञान और स्‍वदेशी तकनीकी ज्ञान जो कि हमारी कृषि का खजाना है,  को बचाये रखने की जरूरत है। इसके बिना न तो कृषि को टिकाऊ बनाया जा सकता है और न ही किसानों की जरूरतों की भरपाई ही की जा सकती है।

इससे पहले, डॉ. ओ.के. सिन्‍हा, निदेशक, भाकृअनुप – भारतीय गन्‍ना अनुसंधान संस्‍थान, लखनऊ ने अतिथिगणों और किसानों का स्‍वागत करते हुए गन्‍ने की विकसित प्रौद्योगिकियों और किसानों के खेतों पर इसके प्रदर्शन के लिए जुड़े किसानों पर प्रकाश डाला।

इस कार्यक्रम का उद्देश्‍य विभिन्‍न अनुसंधान संस्‍थानों/कृषि विश्‍वविद्यालयों द्वारा विकसित की गईं नवीनतम प्रौद्योगिकियों के बारे में किसानों के बीच जागरूकता पैदा करना और विभिन्‍न फसलों पर जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के बारे में उन्‍हें अवगत कराना था।

इस बैठक में भाकृअनुप के स्‍थानीय संस्‍थानों के निदेशकों तथा वरिष्‍ठ सरकारी अधिकारियों ने भाग लिया ।  

(स्रोत : भाकृअनुप – भारतीय गन्‍ना अनुसंधान संस्‍थान, लखनऊ)